गरिबी पर सबसे बडा वार साबित होगी, कांग्रेस की न्याय योजना- श्री रवि दांगी


प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता श्री दांगी ने मंदसौर जिला कांग्रेस कार्यालय पर पत्रकार वार्ता में अनेक बिंदुओ पर की चर्चा
मंदसौर। पुरे प्रदेश में एक साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री राहुलजी गांधी द्वारा समाज के अंतिम पंक्ति के गरिब नागरिको को न्यनतम आय की गारंटी देत हुये न्याय योजना को लागु करने के वादे को लेकर के कल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता श्री रवि दांगी ने जिला कांग्रेस कार्यालय मंदसौर पर पत्रकारो से चर्चा करते हुये योजना के मूल पहलुओ को मिडीया के समक्ष रखने के साथ ही प्रदेश व राष्ट्रीय मुददो पर अपनी राय प्रकट की। इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रकाश रातडिया, प्रदेश कांग्रेस महामंत्री श्री राजेश रघुवंशी, शहर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष श्री मोहम्मद हनिफ शेख, प्रदेश सचिव श्री तरूण खिंची, जिला कांग्रेस प्रवक्ता श्री सुरेश भाटी, जिला कांग्रेस कार्यालय मंत्री श्री रमणीक पोखरना, मंडलम अध्यक्ष श्री दशरथ राठौर, किसान संगठन संभागीय प्रवक्ता श्री महेश दांगी, युवा नेता श्री हेमंत दांगी, श्री संजय पटेल, श्री जितेन्द्र सबित्रा सहित अनेक कांग्रेसजन इस दौरान मौजुद थे।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता श्री रवि दांगी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी ने न्याय (न्यूनतम आय योजना) की घोषणा के साथ ही एक इतिहास रच दिया है। इस योजना से भारत के पांच करोड परिवारो को 72 हजार रूपये प्रतिवर्ष मिलेगे यानि लगभग 25 करोड नागरिक इस योजना से लाभांवित होगे। जाहीर है यह योजना देश की गरिबी पर अंतिम प्रहार साबित होगी।
भारत को भरोसा है कि जिस तरह कांग्रेस की अगुवाई में पूर्ववर्ती यूपीए सरकार ने सन 2008-9 में किसानो की 72000 करोड रूपये की कर्जमाफी की ओर अभी जिस तरह मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ व राजस्थान में किसानो की कर्जमाफी की गयी है, उसी तरह देश में कांग्रेस की सरकार बनते ही श्री राहुल गांधी द्वारा किया गया यह गरिब हितेशी वादा भी पुरा किया जायेगा।
श्री डांगी ने कहा कि पिछले पांच सालो में हिन्दुस्तान की जनता, खासकर गरिबो को काफी मुश्किलो का सामना करना पडा है, न तो दो करोड रोजगार का वादा पुरा हुआ न किसी गरिब के खाते में पंद्रह लाख रूपये आये, उपर से नोटबंदी व जीएसटी ने अर्थव्यवस्था व गरिबो की कमर तोड दी। हर मोर्चे पर मोदी सरकार फेल हो गयी। ऐसे में कांग्रेस पार्टी ने हालातो के मद्देनजर यह फैसला लिया है कि हम हिन्दुस्तान के गरिब लोगो को न्याय देने जा रहे है। यह न्यूनतम आय योजना हर गरिब को दी जा रही है, हम यह बताते हुये प्रसन्नता और गर्व महसुस कर रहे है कि शयद ऐसी ऐतिहासिक योजना, हिन्दुस्तान तो छोडिये पुरी दुनिया में कहीं और लागु नही की गयी है।
हम यहां स्पष्ट कर देना चाहते है कि यदि नरेन्द्र मोदी हिन्दुस्तान के सबसे अमीर लोगो को पैसा दे सकते है तो हमारी कांग्रेस पार्टी देश के सबसे गरिब लोगो को पैसा दे सकती है। आपको याद होगा कि कांग्रेस अध्यक्ष श्री राहुल गांधी ने मध्यप्रद्रेश, राजस्थान एवं छत्तीसगढ में सरकार बनने के दस दिन के भीतर कर्जमाफी का वादा किया था जिसे अशरतः पुरा किया गया। अकेले मध्यप्रदेश में हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री श्री कमलनाथजी द्वारा 25 लाख 50 हजार किसानो का दो लाख तक का कर्ज जय किसान ऋण मुक्ति योजना के द्वारा माफ कर अपनी वचनबध्दता दर्शा दी गयी है। यह प्रक्रिया समूचे 50 लाख किसानो की कर्जमाफी तक जारी रहेगी। इसके अतिरिक्त कांग्रेस पार्टी ने मध्यप्रदेश में मात्र 76 दिनो मे अपने वचन पत्र के 83 वादो को पुरा कर अपनी नियत स्पष्ट कर दी है।
आश्चर्य तो इस बात का है कि हर जनहितेशी योजना का विरोध करना भाजपा व उसके प्रधानमंत्री की आदत बन चुकी है। हमारी इस न्याय योजना का विरोध करने वाली भाजपा के प्रधानमंत्री श्री मोदी ने इसी मनरेगा जैसी हमारी पूर्ववर्ती योजना जिसके द्वारा 14 करोड लोगो के जीवन में खुशहाली आयी थी उसका भी विरोध, संसद में दिये अपने पहले भाषण के दौरान किया था। यही नही मोदी ने भूमी अधिग्रहण कानूनम ें बाजार पर आधारित मुआवजे का भी विरोध कर इसे कमजोर किया, यूपीए सरकार द्वारा लाये गये खाद्य सुरक्षा कानून का विरोध कर उसे कमजोर किया, वन अधिकार कानून और पैसा को कमजेार कर करोडो आदिवासियो को उनके वन के पटटो से वंचित कर दिया, सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर किसानो को किमत पर 50 प्रतिशत मुनाफा देने का विरोध किया, किसानो की कर्जमाफी का विरोध किया, दलित आदीवासी कानून को कमजोर करने की कोशिश की, नोटबंदी की आपदा से करोडो लोगो की रोजी रोटी छिनी और गब्बर सिंह टेक्स (जीएसटी) लगाकर एमएसएमई, व्यापारियो व छोटे दुकानदारो को बर्बाद कर दिया।
श्री डांगी ने भाजपा पर अमीरो की समर्थक और गरिब विरोधी होने का आरोप लगाते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी को इस योजना की घोषणा के माध्यम से हम बता देना चाहते है कि आप चाहे लाख विरोध करिये, हमारी गरिब हितेशी योजनाओं को लागु करने के लिये हम सदैव की तरह प्रतिबध्द है और आगे भी रहेगे। इस योजना के तहत सभी गरिब परिवारो को 72 हजार रूपये प्रतिवर्ष मिलेगे, यह योजना शहरी एवं ग्रामीण दोनो ही क्षेत्रो के गरिब परिवारो के लिये लागु होगी। चूकी इस योजना में पैसा सीधे लाभार्थी परिवार की महिला सदस्य के खाते में ट्रांसफर किया जायेगा। लिहाजा यह महिला सशक्तिकरण की दिशा में भी एक ठोस कदम साबित होगा।
इस योजना के क्रियान्वयन के फामूर्ले पर, कांग्रेस पार्टी ने दुनिया के बेहतरिन अर्थशास्चियो,के साथ विस्तृत विश्लेषण किया है। ये फिस्कली पूु्रडेट स्कीम होगी। योजना की सफलता के लिये चिदबरमजी के नेतृत्व में पुरी टीम काम कर रही है। इस योजना को लागु करने के लिये न तो मौजुद समाज कल्याण योजनाओं में और न स सब्सिडियो में कोई कटोत्री की जायेगी। आने वाले दिनो में योजना की सारी व्याख्या की जायेगी। न्याय के लिये जरूरी पैसो का प्रबंधन हमारी मौजुदा अर्थव्यवस्था में है और हमने इस पर पुरा विचार विमर्श किया है।
यह उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार द्वारा कराये गये आर्थिक सर्वेक्षण 2016.17 में भी यह स्वीकार किया गया कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकाल के दौरान गरिबी काफी कम हुई थी। आजादी के समय जो गरिबी 70 प्रतिशत हुआ करती थी वह 2011.12 में मात्र 22 प्रतिशत रह गयी थी। शेष बची हुई गरिबी पर अभूतपूर्व न्याय योजना के द्वारा दुर की जायेगी। यह गरिबी पर आखिरी प्रहार होगा। हम गरिबी को आय देना चाहते है। हम गरिब विरोधी नरेन्द्र मोदी का असली चेहरा भी जनता के सामने लाना चाहते है।
यह शर्मनाक और आश्चर्यजनक है कि मोदी जी विजय माल्या, मेहुल चौकसी भाई, ललित मोदी उर्फ बडे मोदी, नीरव मोदी उर्फ छोटे मोदी जैसे घोटालेबाजो के एक लाख करोड की बैकलुट का तो माफर कर सकते है लेकिन गरिबो के खाते में जाते हुये 6000 रूपये प्रतिमाह को वे बर्दाश्त नही कर पा रहे है।
यह भी मोदी का विचित्र पाखंड है कि 15 लाख का सूट पहनते है, 6000 करोड रूपये स्वयं के प्रचार के लिये खर्च कर सकते है और राफेल सौदे के द्वारा अपने क्रोनी केपिटलिस्ट मित्र को 30000 करोड रूपये दे सकते है लेकिन गरिब के खाते में 6000 रूपये प्रतिमाह देने का विरोध करते है।
हम मोदीजी और भाजपा द्वारा किये गये तमाम विरोधो के बावजुद देश को आश्वस्त करना चाहते है कि हमारी पूर्ववर्ती गरिब हितेशी योजनाओं की तरह ही, हम इस योजना को पुरा करने के लिये भी पुरी तरह से प्रतिबध्दता है और हर हाल में हम इसे लागु करके रहेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

एक नजर