मौजुदा अफवाहे कोरा झूठ, कांग्रेसी था और बना रहूंगा- डंग




मंदसौर । सत्ता मे बैठी कांग्रेस के मंदसौर संसदीय क्षेत्र के विधायक हरदीपसिंह डंग को लेकर के पिछले दिनो से भाजपा में जाने एवं कांग्रेस छोडने संबंधी बाते सामने आ रही थी। समाचार पत्रो में इस बारे में आ जाने एवं प्रादेशिक चेनलो में खबर चलने के उपरांत कल विधायक श्री डंग ने मंदसौर जिला मुख्यालय पर आकर प्रेस वार्ता करके इस बारे में सफाई प्रस्तुत की। उन्होनें साफ कहा कि न तो उनका भाजपा में जाने का इरादा है और नही वे कांग्रेस छोड रहे है। वे कांग्रेसी थे और बने रहेगे। इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया, पूर्व विधायक नवकृष्ण पाटील, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्री राजेन्द्रसिंह गौतम, युवा नेता श्री सोमिल नाहटा भी साथ थे।
श्री डंग ने अधिकांश पत्रकारो के सवालो का सीधा जवाब देने की बजाय गोलमोल जवाब देते हुये कहा कि ये अफवाहे कहां से उठी और कैसे मैं नही जानता। मैं होली मिलन कार्यक्रम के दौरान अपने मित्रो से कुछ चर्चाये की थी जिसे सोश्ल मिडीया के माध्यम से हवा मिली। उन्होनें स्वीकार करते हुये कहा कि उनकी कुछ समस्याये और आशंकाये थी जिसका काफी हद तक उत्तर मुख्यमंत्री श्री कमलनाथजी से मिल चुका है। श्री डंग ने कहा आमजन से जुडे मेरे कुछ प्रश्न थे जिनका उत्तर मैं मुख्यमंत्रीजी से चाहता था अब ऐसी कोई समस्याये नही है। कुछ आशंकाये थी जो अब समाप्त हो चुकी है।
मंत्री बनाने एवं ट्रांसफर जैसे मामलो का नही दिया सीधा उत्तर
मंदसौर संसदीय क्षेत्र के कांग्रेस विधायक श्री डंग द्वारा उनके क्षेत्र के कुछ अधिकारियो के तबादले एवं चुनाव बाद मंत्री बनाये जाने की मांग संबंधी प्रश्नो पर श्री डंग ने कोई सीधा उत्तर नही दिया लेकिन उन्होनें कहा कि मैं संभाग का एकमात्र कांग्रेसी विधायक हो जिसे देखते हुये आमजन की राय के अनुसार मुझे मंत्री बनाया जाना चाहिये। उन्होनें तबादले संबंधी मामलो का मुस्कराकर टालते हुये दिखायी दिये।
अंदरूनी रूप से डंग द्वारा ब्लेकमेलिंग की कोशिश……!
पार्टी आला कमान एवं कांग्रेस के नेताओं से मिली जानकारी अनुसार पिछले कुछ दिनों से हरदीपसिंह डंग अनेक कांग्रेस नेता जिसमें एक या दो मंत्री भी शामिल है उनके माध्यम से मंदसौर जिले में अपनी इच्छाुनसार कार्य करवाने एवं मंत्री बनाये जाने संबंधी मामले में दबाव बनाये हुये हैं। इस मामले में जानकार सूत्रो के अनुसार श्री डंग ने स्वयं अपने भाजपा में जाने की अफवाहे उडाई, मिडीया में सुर्खिया बने और फिर दबाव के बाद कुछ शर्तो पर राजी होते हुये स्वयं का फिर से पक्का कांग्रेसी बताने में जुट गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

एक नजर