किसान गोलीकांड के दोषियों पर सख्त कार्यवाही करे सरकार- रघुवंशी

मंदसौर। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राजेश रघुवंशी नें कहा है जून 2017 में मंदसौर जिले में अपनी जायज मांगों को लेकर हुए किसान आँदोलन को जिस वर्वरता के साथ बंदूक की दम पर कुचलने का प्रयास हुआ था, वो एक बड़ी घटना थी जिसनें पूरे देश में भाजपा के किसान विरोधी चेहरे को उजागर कर दिया था..! उस दौरान 6 जून 2017 को आंदोलनकारी पांच किसानों की पुलिस नें गोली मार कर हत्या कर दी थी और एक किसान को थानें में पीट-पीट कर मार डाला गया था..! उस समय पिप्लिया मंडी थाने और बड़बन चौकी पर पदस्थ पुलिस अधिकारियोंध्कर्मचारियों की गंभीर चूक और निर्ममता की कहानी सबके सामने उजागर हुई थी और कांग्रेस नें दोषी पुलिस वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग आगे रखते हुए निरंतर पदयात्राऐं और प्रदर्शन किये थे।
रघुवंशी नें उपरोक्त तथ्यों के संदर्भ में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी, गृह मंत्री श्री बाला बच्चन जी एवं कृषि मंत्री श्री सचिन यादव जी को पत्र लिखते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने हुए लगभग 7 महिने हो गये हैं और अब तक दोषी पुलिसकर्मी मैदानी पदस्थापनाओं पर ही हैं..! न तो उन पर कोई कार्यवाही हुई है, न ही जांच हुई है और न ही उन्हें लाईन अटेच किया गया है..! ये पूरा घटनाक्रम हमारे उस वचन के खिलाफ है जो हमनें शहीद किसानों के परिजनों को दिया था..!चूंकि तत्कालीन भाजपा सरकार नें एक-एक करोड़ मुआवजा एवं शहीदों के परिजनों को नोकरी देकर मामले को दबाने का प्रयास किया था और आंदोलनकारी किसानों को असमाजिक तत्व बता कर पूरे मामले में लीपापोती कर दोषीयों को बचा लिया था। हमनें किसानों से वादा किया था कि सरकार में आते ही दोषी अधिकारियोंध् पुलिस कर्मियों पर अपराधिक मामले दर्ज कर नये सिरे से जांच की जाऐगी, जिससे शहीद किसानों के परिजनों के साथ न्याय हो सके..!
रघुवंशी नें पत्र में लिखा है कि हमारी सरकार वचन की पक्की सरकार है एवं किसानों के साथ न्याय हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है और श्री राहुल गांधी जी नें भी सार्वजनिक मंचों से किसान गोलीकांड के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का वादा किसानों से किया है..! अतरू इस संवेदनशील मुद्दे पर तत्काल कदम उठाए जाने की जरूरत है, जिससे शहीद किसानों के साथ न्याय हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *