पर्चा दाखिल के बहाने हरदीप ने बतायी ताकत
मंचीय व्यस्था से एकता दिखाने की कोशिश


मंदसौर। सुवासरा विधानसभा चुनाव में इस बार जो व्यवस्थाये बदली- बदली लग रही है उसके कारण न केवल राजनैतिक परिस्थितियां एवं हालात बदले है बल्कि राजनैतिक कदम और व्यवस्थाये भी बदल गयी है। एक समय तक भाजपा के पास पाटीदार एण्ड कंपनी का प्रबंधन था वही अब कांग्रेस के पास दिखायी दे रहा है तो हरदीपसिंह डंग के रूप में आयातित उम्मीदवार भाजपा के पास आने के चलते भाजपा संगठन क्षमता के अलावा सुवासरा विधानसभा में कार्यकर्ताओं के बीच फूट एवं अफवाहो से निपटने के लिये कवायद भी कर रही है। शुक्रवार को नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन हरदीसिंह डंग ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा की अगुवाई में नामांकन दाखिल कर सीतामउ में ताकत दिखाने के अलावा भाजपा में एकता दिखाने की कोशिश भी की गयी।
शुक्रवार का दिन सुवासरा विधानसभा में भाजपा के नाम रहा। पहले ही नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने के बावजुद भाजपा उम्मीदवार हरदीपसिंह डंग ने सुवासरा विधानसभा में विपक्षी उम्मीदवार राकेश पाटीदार पर बढत दिखाने की मंशा से तामझाम के साथ नामांकन दाखिल किया। इस दौरान मंदसौर संसदीय क्षेत्र के भाजपा नेताओ ने हरदीपसिंह के साथ मंच साझा करने साथ ही अपने- अपने अंदाज में उपचुनाव विजय का भरोसा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष को कराया। नामांकन सभा के दौरान भाजपा नेताओं ने कमलनाथ के पंद्रह माह के कार्यकाल को जमकर कोसा।
डंग के साथ बैठे राधेश्याम- नामांकन सभा के दौरान भाजपा प्रत्याशी हरदीपसिंह डंग पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार के साथ नजर आये। मंचीय व्यवस्था व रणनीति के तहत दोनो को भाजपा ने एक साथ बिठाते हुये भाजपा कार्यकर्ताओं को एकता के दर्शन करवाने की कोशिश की। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष प्रियंका गोस्वामी, सुवासरा विधानसभा से दूरिया रखने वाले मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया भी मंच पर दिखे।
हरदीप शिवराज को बता रहे है बेहतर सीएम- पूर्व विधायक हरदीपसिंह डंग पर लगातार कांग्रेस द्वारा गददारी के अलावा राकेश पाटीदार द्वारा लगातार हरदीप पर निशाना साधने के चलते हरदीपसिंह डंग ने अपनी रणनीति कमलनाथ एवं शिवराज के कार्यो की तुलना करके सभाओ में अपने लिये वोट जुटाने की कोशिश मे लगे है। एक तरफ कांग्रेस उम्मीदवार लगातार हरदीप पर हमलावर है किन्तु हरदीपसिंह अपने जनसंपर्क अभियान के दौरान कमलनाथ की बजाय शिवराजसिंह को सुवासरा विधानसभा के लिये किये गये विकास को गिनाने की कोशिश के साथ ही बेहतर सीएम बताने मे लगे है।