अधिकारियो से आर्थिक बंधिया लेने वालो को ही दिख रहा है ट्रांसफर उधोग-श्री भाटी


ताशपत्ती और सटोरियो को छुडाने वाले भाजपा नेतागण कर रहे है दलबदलुओ की हवा ठीक करने की कोशिश
मंदसौर। पिछले पंद्रह सालो से भाजपा के कार्यकर्ता से लेकर भाजपा जनप्रतिनिधिगण लगातार अधिकारियो एवं कर्मचारियो से न केवल लाभ अर्जित करते रहे बल्कि भ्रष्ट व्यवस्था अनुसार लिफाफा संस्कृति को भी जन्म दिया। इस भ्रष्ट व्यवस्था को तोडते हुये माननीय कमलनाथजी की सरकार ने अधिकारियो के तबादले किये जिसके चलते भाजपाईयो के हित प्रभावित हुये जिसकी भरपायी पुनः सरकार कब्जाते हुये भाजपा ने करने की कोशिश की है। भाजपा नेतागण अपने गिरेबा में झांकने की बजाय कांगे्रेस पर अनबल आरोप लगा रहे है। रात दो बजे सटोरियो को थानो से मुक्त करवाने वाले पहले अपने दल की भ्रष्ट व्यवस्था पर आत्म मंथन करे।
यह बात जिला कांग्रेस प्रवक्ता सुरेश भाटीए ब्लाॅक कांग्रेस कमेटियो के प्रवक्तागण विश्वास दुबेए पंकज बैरागीए अशोक भावसारए विकास दशोराए भगत कुमावतए लक्ष्मीनारायण धनगरए महेश गुप्ताए मनीश डबकराए मुकेश रत्नावतए नंदु दुबेए राजकुमार जोगीखेडाए राजमल मुजावदियाए सुंदर परिहारए सुंनिल राठौरए सुरेन्द्रसिंह यादव ने बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव द्वारा अपनी सभाओ में कांग्रेस सरकार द्वारा किये गये तबादले उघोग दिख रहे है लेकिन उन्हें भाजपा के बेरोजगार नेतागणो का आराम तलब जीवन और भ्रष्टाचार नही दिख रहा है जिन्होने अधिकारियो से लेनदेन की बंधिया करते हुये भ्रष्ट व्यवस्था को जन्म दिया। कांग्रेस प्रवक्ताओं ने कहा कि कांग्रेस के पंद्रह माह के शासन में कमलनाथजी ने भाजपा की भ्रष्ट व्यवस्था को समाप्त करने की कोशिश की जिसकी खिंच भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के बयानों में दिख रही है।
श्री भाटी एवं अन्य कांग्रेस प्रवक्ताओं ने कहा कि भाजपा और उनके नेतागण सदैव ही भ्रष्ट व्यवस्था के सहारे आर्थिक उन्नति करते रहे है किन्तु भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव जो रात को दो बजे भी ताशपती और सट्टा खेलने वालो को छुडाने का दावा करते है दलबदलुओ की हवा ठीक करने के लिये कमलनाथजी की सरकार पर सभाओ में अनर्गल आरोप लगा रहे है।