जीतकुने-डो के जनक का मिक्स मार्शल आर्ट ऐकेडमी ने जन्मदिवस मनाया


मंदसौर। मिक्स मार्शल आर्ट एसोसिएशन मंदसौर के तत्वधान में जिला जीत कुनै डो एसोसिएशन मंदसौर द्वारा 27 नवंबर को संस्था द्वारा जीत कुने डो के जनक ( मार्शल आर्ट ) के महान गुरु ब्रूस ली द ग्रेट के जन्मदिन मनाया गया। मुख्य अतिथि सहा कार्यालय मंत्री किसान मोर्चा जिला किक बॉक्सिंग के अध्यक्ष श्री हिम्मत डांगी जी कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे यशोधर्मन नगर थाना प्रभारी श्री जितेंद्र जी पाठक, विशेष अतिथि जिला थाई बॉक्सिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष समाज सेवी लाडी लोहाना सिंधी युवा संगठन के अध्यक्ष श्री विजय कोठारी जी के द्वारा स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया। संस्था द्वारा इस दौरान 15 साल से निशुल्क सेवा दे रहे प्रशिक्षक सैयद आफताब आलम और मंगल लोट को अतिथियो ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
जिला किक बाॅक्सिंग के अध्यक्ष श्री हिम्मत डांगी ने कहा कि मिक्स मार्शल आर्ट एसोसिएशन 24 साल से मंदसौर जिले में निशुल्क सेल्फ डिफेंस क्लास चला रही है मंदसौर जिले में यह एक ही संस्था है जो बालक और बालिकाओं को निशुल्क प्रशिक्षण दे रही है और संस्था के बच्चे राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हर साल चयन होते हैं जिले के लिए यह बहुत गौरव की बात है गगन कुरील को बधाई देते हुए उनके कार्य की सराहना की।
यशोधर्मन थाना प्रभारी श्री जितेन्द्र पाठक जी ने कहा की खेल जीवन में अनुशासन लाता है और जो व्यक्ति अनुशासित होता है वह अपने जीवन में सफलता अवश्य पाता है आप सब लोग सौभाग्यशाली हैं कि आप लोग को 24 साल से निशुल्क प्रशिक्षण मिल रहा है यह संस्था बधाई के पात्र है।
जिला थाई बाॅक्सिंग के अध्यक्ष श्री विजय कोठारी ने कहा कि संस्था 24 साल से निशुल्क सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे रही है और सामाजिक कार्य मैं भी हमेशा आगे रहती है संस्था ने देश में बढ़ते हुए महिलाओं के साथ अपराध में अंकुश लग सके उसके लिए संस्था पूरे जिले में कैंप के माध्यम से बालिकाओं को सेल्फ डिफेंस के ट्रेनिंग देती रहती है संस्था की गर्ल्स खिलाड़ियों ने सेल्फ डिफेंस का प्रदर्शन किया। सभी खिलाड़ियों ने ब्रेकिंग एवं पूमसे डेमो का प्रदर्शन किया।
इस अवसर पर कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत दिनेश चंदवानी, असलम खान, अशोक माली आदित्य चनाल ने किया कार्यक्रम का संचालन मिक्स मार्शल आर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष संचालक गगन कुरील ने किया आभार सैयद आफताब आलम ने माना।