मंदसौर। भगवान श्री पशुपतिनाथजी का कार्तिक मेला मंदिर की ख्याति दूर-दूर तक फैलाने के साथ ही मंदसौर वासियो सहित अंचल वासियो के लिये प्रतिक्षा का विषय रहा है। मेले के आयोजन को लेकर के भले ही नगर पालिका परिषद बडे दावे करे लेकिन मेले की भव्यता एवं सुनियोजित प्लानिंग के अभाव के कारण मेले की ख्याति लगातार कम हुई है जिसे देखते हुये नगर पालिका परिषद तीन वर्ष उपरांत अपने पूर्ण स्वरूप में लगने वाले मेले आयोजन को भव्य एवं सुनियोजित प्लानिंग के तहत आयोजित करे।
       जिला कांग्रेस प्रवक्ता एवं सामाजिक कार्यकर्ता श्री सुरेश भाटी ने कहा कि नगर पालिका परिषद द्वारा पिछले दो सालो से कोरोना के कारण बंद रहे भगवान श्री पशुपतिनाथ मेले एवं बिना सांस्कृतिक आयोजन के गत वर्ष हुये मेले के उपरांत तीन वर्ष बाद पूर्ण स्वरूप में मेले का आयोजन करने जा रही है जिसकी अंचलवासियो को प्रतिक्षा है किन्तु जिस प्रकार से नगर पालिका परिषद मेले के आयोजन एवं आकार को लेकर के भ्रम की स्थिति में है उसके चलते मेला आयोजन भव्य एवं सुनियोजित तरिके से हो सकेगा इसको लेकर के अभी से भ्रम की स्थिति निर्मित हो गयी है।
      श्री भाटी ने आगामी भगवान श्री पशुपतिनाथ मेले के आयोजन को भव्य एवं प्लानिंग के साथ आयोजित करने का परामर्श देते हुये कहा कि एक ओर मंदसौर अपना गौरव दिवस मनाने जा रही है ऐसे में मेले की भव्यता भी आवश्यक हो गयी है। उन्होेने भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव मेले के सांस्कृतिक आयोजन को बालीवुड कलाकारो, गायको के साथ ही लोक संगीत, नाट्य एवं भारतीय नृत्य कला आदी से परिपूर्ण करने का आग्रह किया है  इसके साथ ही मेले की अंचल मे प्रचार- प्रसार के लिये सोश्यल मिडीया, प्रिंट मिडीया के अलावा अन्य प्रमुख शहरो तक मेले की जानकारी आदी उपलब्ध करवाने सहित मेले में लगने वाली दुकानो को प्लानिंग के साथ लगाने की भी मांग की है। उन्होनें नपा द्वारा वाहन स्टेण्ड की नीलामी पर आश्चर्य प्रकट करते हुये कहा कि पूर्व की परिषदो ने वाहन स्टेण्ड के कार्य में लगे अपराधिक तत्वो द्वारा आम नागरिको के साथ की जाने वाली अभ्रदता आदी को ध्यान में रख वाहन स्टेण्ड निः शुल्क कर दिये थे किन्तु दुबारा नपा परिषद द्वारा वाहन स्टैण्ड की नीलामी करना समझ से परे है। एक ओर नपा लगातार मेला आयोजन का खर्च बढा रही है वही दुसरी ओर वाहन स्टेण्ड की नीलामी के नाम पर कुछ राशि का मोह नही छोड पाना अपने आप में नपा के पदाधिकारियो की प्लानिंग पर सवालिया निशान लगाता है।
      श्री भाटी ने कलेक्टर श्री गौतमसिंह, नगर पालिका अध्यक्ष एवं सीएमओ ंसे आगामी मेले की भव्यता का ध्यान रखने एवं अन्य आवश्यक बिंदुओ की ओर ध्यान आकर्षित करवाया है।